Computer

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां |1-5

आज हम Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां | के बारे में बात करेंगे और computer के कितने generation है और उसमे computer कितना बिकास हुआ है उसके बारे में बात करेंगे तो चलिए सुरु करते है |

Table of Contents

Generation of Computer in Hindi – कंप्यूटर की पीढियां

पहले के समय में लोग छोटे संख्या का हिसाब आसानी से हाथो में कर दिया करते थे पर जब बात आय बड़ी संख्या की तो वो हाथो के दयारा गणना करना आसान नहीं था इस देखते हुए computer का अबिष्कार किया गया |

computer बहोत साल से इस्तेमाल किया जा रहा है | पहले के समय में computer उतना advance और modern नहीं था |

पहले के समय में computer का इस्तेमाल ज्यादा तोर पर calculation करने के लिए किया जाता था |

आजके समय के computer बहोत advance और modern हो चूका है हलाकि पुराने समय के computer उतने advance नहीं थे | बदलते समय के साथ computer में बहोत सारी बदलाब आयी है जैसे की पहले के समय में computer का size बहोत बड़ा हुआ करता था और गति (speed) कम था , आज के समय में computer का size बहोत छोटा हो गया है और computer का गति (speed)और ज्यादा बढ़ गया है |

आज तक computer की पांच पीढ़िया हो चुकी है –

First Generation1940 to 1956
Second Generation1956 to 1963
Third Generation1964 to 1971
Fourth Generation1971 to 1985
Fifth Generation1985 to Now ( अब तक )

First Generation computer in Hindi |पहली पीढ़ी के कंप्यूटर |

Computer की पहली पीढ़ी सन 1940 से 1956 में हुआ था |

पहली पीढ़ी का computer size में बहोत बड़ा हुआ करता था , ये इतना बड़ा होता था की इसे रखने के लिए एक अलग कमरे की जरुरत होती थी | तो आप समझ सकते है की ये कितना बड़ा हुआ करता था |

ये इतना बड़ा इसलिए होता था क्युकी इसमें कांच के बने वैक्यूम ट्यूब (Vaccum Tubes ) का इस्तेमाल हज़ारो की संख्या में होता था | इसलिए पहले पीढ़ी का computer बहोत बड़ा होता था | उस समय के computer उतने advance नहीं होते थे और कुछ समय काम करते ही ये गरम हो जाया करते थे और reliable (विस्वश्नीय) नहीं हुआ करते थे। पहले के कंप्यूटर गणना करने data को store करने और वैज्ञानिक कार्यों के लिए इस्तेमल किया जाता था | इन computer में pograming करना बहोत ही ज्यादा मुश्किल था और ये बिचलि भी बहोत ज्यादा खर्च करता था | batch processing ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल किया जाता था पहेली पीढ़ी के computer में |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Advantages of First Generation Computer in Hindi (पहली पीढ़ी कंप्यूटर के फायदे)

  1. पहली पीढ़ी में computer डाटा की calculation (गणना) बहुत तेजी से कर सकता था | ये millisecond अंदर ही गणना करने की ख्यामता रखता था |
  2. उस समय में Vaccum Tubes technology ज्यादा महँगी नहीं थी और ये आसानी से मिल जाते थे |
  3. Scientific (वैज्ञानिक) उस समय के computer में काम कर सकता था |
  4. ये computer data और information को store करके रख सकता था |

Disadvantages of First Generation Computer in Hindi (पहली पीढ़ी कंप्यूटर के नुकसान)

  1. पहली पीढ़ी computer का size बहोत बड़ा हुआ करता था जिससे की इसे कही भी रखने में परेसानी होती थी |
  2. उस समय के computer तो करता था पर काम करते समय बहोत ही जल्दी गरम हो जाता था |
  3. Air-Condition (AC) का इस्तेमाल किया जाता था उस समय के computer को ठंडा रखने के लिए |
  4. size में बड़ा होने की कारन से ये बिजली बहोत खर्च |
  5. इन computer maintain करके रखना ही मुश्किल होता था |
  6. इसमें pogram करना भी बहोत मुश्किल का काम था |

पहली पीढ़ी के कंप्यूटर के उदाहरण

  • IBM-701
  • EDSAC
  • IBM 650
  • ENIAC
  • EDVAC 
  • UNIVAC

Second Generation Computer in Hindi (दूसरीपीढ़ीकेकंप्यूटर)

computer की दूसरी पीढ़ी का सुरबत सन 1956 में हुई थी और अंत सन 1963 में हुआ था | दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में transistor का इस्तेमाल किया गया था transistor Vaccum Tubes के मुकाबले काफी छोटे हुआ करते थे | transistor की बजह से computer काफी छोटा हो गया था , इसके कारन computer में काफी परिबर्तन आ गया था | batch-processing और multi-processing का इस्तेमाल दूसरी पीढ़ी के computer किया गया था |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Advantages of Second generation computer in Hindi (दूसरी पीढ़ी कंप्यूटर के फायदे)

  1. पहली पीढ़ी की तुलना में दूसरी पीढ़ी computer का size काफी छोटा है गया था |
  2. दूसरी पीढ़ी में कंप्यूटर काम करते समय ज्यादा जल्दी गरम नहीं होता था |
  3. काम आकर के कारन ये ज्यादा बिजली खर्च नहीं करता था |
  4. दूसरी पीढ़ी computer में microsecond के अंदर ही कैलकुलेट कर सकता था | इस पीढ़ी की computer में काम करने की speed बहोत अच्छी थी |
  5. दूसरी पीढ़ी के computer को maintain करना आसान होता था |
  6. इस पीढ़ी की reliable (विश्वसनीय) होते थे और इनकी accuracy अधिक होती थी |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Disadvantages of Second generation computer in Hindi (दूसरीपीढ़ीकंप्यूटरकेनुक़सान)

  1. दूसरी पीढ़ी की computer जल्दी गरम नहीं होते थे फिर भी उनको ठंडा रखने के लिए AC की जरुरत पड़ती थी |
  2. दूसरे पढ़ी की computer को लगातार maintain रखने की अबस्यकता पड़ती थी |
  3. कुछ बिसेस कामो को पूरा करने के लिए इस computer का ब्यबहार किया जाता था |
  4. input करने के लिए पहले पीढ़ी की तरह ही इस पीढ़ी में भी punch cards का इस्तेमाल करना पड़ता था |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर के उदाहरण –

  • UNIVAC 1108
  • CDC 1604
  • Honeywell 400CDC 3600
  • IBM 7094

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Third Generation Computer in Hindi (तीसरीपीढ़ीकेकंप्यूटर)

सन 1964 में computer की तीसरी पीढ़ी का आरम्भ हुआ था और सन 1971 में इसका अंत हुआ था | तीसरी पीढ़ी में computer बहोत advance और modern हो गया था , computer के खेत्र में बहोत ही ज्यादा उन्नती हो चूका था |

तीसरी पीढ़ी में transistor की जगह पर Integrated Circuit (IC) का इस्तेमाल करना सुरु हो गया था | IC एक तरह का chips है जो की Silicon से बनाया जाता है इसलिए इसे Silicon Chips भी कहा जाता है | Silicon Chips की बजह से पिछले पीढ़ी की तुलना में इस पीढ़ी के computer और भी ज्यादा छोटे हो गए थे | इस पीढ़ी के कंप्यूटर छोटे होने की बजह से आसानी से कही भी ले जा सकते है | इस पीढ़ी के computer में reliable (विश्वसनीय) बहोत ज्यादा थे |

तीसरे पीढ़ी के computer की काम करने की speed पहले और दूसरे के तुलना में जय थी |

तीसरी पीढ़ी में  time sharing और multiprogramming जैसे Operating System  प्रयोग किया जाता था |

High Level Language (HLL) जैसे की Cobol, Pascal आदि का use तीसरे पीढ़ी में किया जाता था |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Advantages of Third generation computer in Hindi (तीसरी पीढ़ी कंप्यूटर के फायदे)

  1. तीसरे पीढ़ी के computer का size पहले और दूसरे पीढ़ियों के तुलना में छोटे हो चूका था |
  2. तीसरी पीढ़ी के computer पहले के computer के तुलना में काफी कम बिजली खर्च करता था |
  3. इस computer का size छोटे होने की कारन इसे आसानी से कही भी ले जा सकते थे |
  4. Data को calculate करने की speed बढ़ चूका था |
  5. पहले के तुलना में इस पीढ़ी के computer के storage की क्षमता काफी बढ़ चूका था |
  6. ये computer High Level Language (HLL) को support करता था |
  7. इसमें progamming करना आसान होता था |
  8. इस computer को maintain करके रखना आसान था |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Disadvantages of third generation computer in Hindi (तीसरी पीढ़ी कंप्यूटर के नुकसान)

  1. तीसरे पीढ़ी के computer में IC chips के साथ काम करने के लिए specialized workers (विशेष कार्यकर्ता) की जरुरत पड़ती थी |
  2. तीसरी पीढ़ी के computer काफी महंगे होते थे |
  3. उस समय में ic chips को repair करना काफी मुश्किल हुआ करता था |
  4. इस पीढ़ी के computer ज्यादा गरम तो नहीं होते थे फिर भी इसे ठंडा रखने के लिए AC का इस्तेमाल करना पड़ता था |
  5. IC chips को बनाना आसान नह था इसे बनाने में काफी मुस्किलो का सामना करता पड़ता था |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर के उदाहरण

  • IBM 370
  • PDP-11
  • UNIVAC 1108
  • Honeywell-6000
  • DEC series
  • ICL 2900

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

Fourth Generation Computer in Hindi (चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर)

सन 1970 में चौथी पीढ़ी computer का आरंभ हुआ था और अंत 1985 में हुआ | चौथी पीढ़ी computer में IC की जगह Microprocessor का इस्तेमाल किया जाता है | Microprocessor में अधिक मात्रा में LSI Circuit होते है। इस पीढ़ी में IC chips की जगह VLSI (Very Large Scale Integrated) का प्रयोग होता था |

चौथी पीढ़ी आने तक computer और भी ज्यादा advance हो चका था | इसकी काम करने की क्षमता और speed बहोत अधिक मात्रा में बढ़ चुकी थी , जैसे की computer के छोटे size में भी बहोत सारे features उपलब्ध होते थे | इस पीढ़ी में real time, time sharing, और distributed Operating System का इस्तेमाल किया जाता है।

इस पीढ़ी में computer – C, C++ जैसे high level language का प्रयोग किया जाता था | चौथी पीढ़ी में personal computer (PC) का प्रयोग काफी बढ़ चूका था |

Advantages of fourth generation of computer in Hindi (चौथी पीढ़ी कंप्यूटर के फायदे)

  1. पिछले सभी पीढ़ी की तुलना में चौथी पीढ़ी के computer के काम करने की speed काफी अच्छी हो चुकी थी |
  2. चौथी पीढ़ी में computer का size काफी छोटे हो चुके थे जिससे की इसे कही भी आसानी से ले जा सके |
  3. चौथी पीढ़ी के computer को maintain करने की जरुरत नहीं होती थी |
  4. ये computer सस्ते होते आसानी से उपलब्ध भी हो जाते थे |
  5. ये computer ज्यादा गरम नहीं होता था | जिससे की AC की जरुरत काम पड़ती थी |
  6. ये computer high level language को support करता था और बहुत ज्यादा reliable होते थे |

Disadvantages of fourth generation computer in Hindi (चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर)

  1. चौथी पीढ़ computer में microprocessor का इस्तेमाल होता था | जो की microprocessor को बनाना मुश्किल काम था |
  2. microprocessor बनाने के लिए बहोत advance technology की अबसतक्ता पड़ती थी |
  3. चौथी पीढ़ी में भी इसे ठंडा रखने के लिए AC की जरुरत पड़ती थी |

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर के उदाहरण

  • Micral
  • IBM 5100
  • Altair 880

Fifth Generation Computer in Hindi (पांचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर)

1985 से पचभी पीढ़ी का आरंभ हुआ है और ये अब तक चल रहा है | पिछले सभी पीढ़ियों से पंचबी पीढ़ी का computer बहोत ही ज्यादा advance और modern है| ये कितना advance हो गया है आप इस चीज़ से अंदाजा लगा सकते है की ये computer बिलकुल इंसानो जैसा ब्यबहार कर सकता है | इस पीढ़ी में IA technology का ब्यबहार किया जाता है |

पछबि पीढ़ी में – C, C++, Java, और .Net जैसे high level language का इस्तेमाल किया जा रहा है |Engineering, Researches, Defense  जैसे कई महत्वपूर्ण क्षेत्रों में और Entertainment जैसे क्षेत्रों में भी इसका इस्तेमाल किया जा रहा है | इस computer में सबसे ज्यादा speed पाई गयी है और इसमें काम करने की क्षमता बहोत ज्यादा है |

पंचबी पीढ़ी computer को और भी ज्यादा advance किया जा रहा है ताकि ये और भी ज्यादा अच्छे तरीके से काम कर सके |

Advantages of Fifth Generation computer in Hindi (पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के फायदे)

  1. पछबि पीढ़ी के computer की speed बहोत ज्यादा है और इसमें काम करने की क्षमता बहोत अधीक है |
  2. इस computr को repair करना बहोत ही आसान होता है |
  3. इस computer का size बहुत ही छोटा है |
  4. ये computer छोटा होने के साथ ही बहोत हल्का भी है |
  5. छोटा और हल्का हने के कारन इसे आसानी से कही भी ले जा सकते है |
  6. पछबि पीढ़ी के computer को maintain करके रखने की जरुरत नहीं पड़ती |

Disadvantages of fifth generation computer in Hindi (पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के नुकसान)

  1. पंचबी पीढ़ी के computer अच्छे तो है पर इसे इस्तेमाल करने में थोड़ी बहोत समस्याओं का सामना करना पद सकता है |
  2. इन computer में AI का इस्तेमाल किया गया है और अब तक AI पूरी तरह से develop नहीं किया गया है जिससे की हमे नुकसान भी हो सकता है |
  3. पंचबी पीढ़ी के computer को बनाने के लिए जटिल Tools का प्रयोग किया जाता है जो की आसानी से नहीं मिलता |

Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटर के उदाहरण

  • Desktop
  • Notebook
  • Ultrabook
  • Chromebook
  • Laptop
  • Palmtop
  • Param 

आज हमने क्या सीखा :

तो आज हमने Generation of Computer in Hindi | कंप्यूटर की पीढियां | के बारे में जानकारी हासिल की है |

मुझे पूरी उम्मीद है की आपको कंप्यूटर की पीढियां के बारे में अच्छे से समझ आ गया होगा | अगर आपको किसी चीज़ में कोई परेशानी हो या फिर कोई चीज़ में किसी तरह की कोई doubt हो तो आप उसे comment कर सकते है | में आप सभी क doubt को clear करने में आपकी पूरी मदद करूँगा |

अगर आपको कोई भी चीज़ की जानकारी जननी हो तो आप उसे comment कर सकते है में उसे आप तक जरूर पहचाऊंगा |

हमारे नये post देखने के लिए यहाँ click करें |

For more Information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *