ComputerUncategorized

History of computer in hindi (कंप्यूटर का इतिहास ) 1936 to 2022 :

मानब जीबन को सुखमय बनाने के लिए बिज्ञान ने बहोत सारे आधुनिक चीज़े हमे प्रदान किये है , computer इसमें से एक है |आज के समय में ये इतना कार्यकारी और उपकारी हो गया है की सरकारी (Government ) से लेकर असरकारी (Private) और पढाई , स्यास्त्य (Education ,Health) , और भी बहोत सारी चीज़ो में इसका इस्तेमाल होता है | मानब द्यारा निर्मित ये मशीन आज मानब से ज्यादा मददगार हो गया है | ये जटिल समस्या का हल मिंटो में हमे प्रदान कर देता है |

 एक average consumer के लिए। आजकर तो “computers” हमारे रहन सहन के बहुत ही नजदीक हैं फिर चाहे वो watches हो या फिर automobiles हो। अब हम जानेंगे कंप्यूटर के इतिहास (History of computer) के बारे में |

Full Details of Computer

History of computer in hindi

Table of Contents

History of Computer in Hindi – कंप्यूटर का इतिहास 

कंप्यूटर की इतिहास को जानने के लिए हमे पहले ये जानना होगा की पहले के लोग Number को कैंसर हिसाब करते थे | छोटे संख्या को तो हाथो के इस्तेमाल से आसानी से हिसाब कर रहे थे , पर जब बात बड़े संख्या की हो तो ये हाथो की मदद से हिसाब नहीं किया जा सकता है इसलिए इसमें तकलीफ होती है , इस परेशानी को देखते हुए बिज्ञानिको ने नयी नयी systems का अबिस्कर किया जो की उन्हें इसमें मदद करती थी।

हिसाब करने की इस प्रक्रिया में बहुत से systems of numeration का इस्तमाल किया जाता है जैसे की Babylonian system of numeration, Greek system of numeration, Roman system of numeration और Indian system of numeration.

Indian system of numeration को इनमें से सबसे ज्यादा और universally माना गया है |Morden decimal system of numeration जो की होती हैं (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9) इसमें ये आधारित है | ये processing के लिए binary system of numeration का इस्तेमाल करता है क्योकि हम computer decimal system समझ नहीं सकते है |

History of computer in hindi

Devoloping of computer (कंप्यूटर का बिकास) :

History of computer in hindi

1936 – universal machine का concept propose पहले Alan Turing ने किया था | जो बाद में Turing machine के नाम से जाना गया |

History of computer in hindi

History of computer in hindi

1937 –किसी भी logical, numerical relationship को construct और resolve को Claude Shannon की master’s thesis ने दिखाया कि Boolean algebra के electrical applications कर सकता है |

History of computer in hindi

1941 –पहला fully automatic, programmable computer था Z3 जो की Konrad Zuse ने develop किया था |

History of computer in hindi

History of computer in hindi

1943/1944 – Colossus पहला electronic digital programmable computing device था। जो की British ने World War II के दौरान encrypted German messages को break करने के लिए devolop किया गया था |

History of computer in hindi

History of computer in hindi

1945 –John von Neumann ने stored-program computer की architecture outline की।

History of computer in hindi

History of computer in hindi

1946 –ENIAC (Electronic Numerical Integrator and Computer), पहला general-purpose electronic computer, complete हुआ।

History of computer in hindi

History of computer in hindi

1951 –J. Presper Eckert और John Mauchly ने पहला commercially available computer, UNIVAC I (UNIVersal Automatic Computer I) ने design किया था |

History of computer in hindi

History of computer in hindi

1956 –IBM ने पहला hard disk drive (HDD), IBM 305 RAMAC, introduce किया।

History of computer in hindi

1964 –Douglas Engelbart ने modern computer का prototype दिखाया, जिसमे mouse और graphical user interface (GUI) था।

History of computer in hindi

1971 – पहला microprocessor, Intel 4004, Intel ने किया था |

History of computer in hindi

1975 –पहला personal computer, Altair 8800, introduce हुआ।

History of computer in hindi

1976 –Apple Inc. Steve Jobs और Steve Wozniak ने found किया।

History of computer in hindi

1981 –IBM ने अपना पहला personal computer, IBM PC, introduce किया।

History of computer in hindi

1884 –Apple ने Macintosh introduce किया, पहला successful mouse-driven computer with a GUI।

History of computer in hindi

1990 –Tim Berners-Lee ने CERN में World Wide Web develop की।

History of computer in hindi

1993 –Mosaic web browser release हुआ, जिससे users with little technical skill World Wide Web browse कर सकते थे।

History of computer in hindi

2007 –Apple ने iPhone introduce किया, एक smartphone जो mobile computing को revolutionize करता है।

History of computer in hindi

2008 –Google ने Android operating system for mobile devices release किया।

History of computer in hindi

2010 –Apple ने iPad introduce किया, tablet form factor को popularize करता है।

History of computer in hindi

2011 –IBM’s Watson AI ने Jeopardy! में human champions को हराया।

History of computer in hindi

2014 –Amazon ने Echo smart speaker launch किया, Alexa virtual assistant introduce करते हुए।

History of computer in hindi

2016 –Google’s DeepMind AI, AlphaGo, ने world champion Go player Lee Sedol को हराया।

History of computer in hindi

2018 –Google’s Duplex AI ने real-world phone calls बनाने की ability demonstrate की, एक human-like voice के साथ।

History of computer in hindi

2019 –Google ने Quantum supremacy claim किया।

History of computer in hindi

2022 –DeepMind की AlphaFold program विज्ञान के ज्ञात प्रत्येक protein की संभावित संरचना का निर्धारण करती है।

History of computer in hindi

Calculating Machines in Hindi :

अब हम कुछ ऐसे ही computing devices के विषय में जानेंगे |  हमारे पूर्वजों को करीब हजारों वर्ष लग गए ऐसे mechanical devices बनाने में जिससे की बड़े numbers को count किया जा सके।

History of computer in hindi

Abacus

सबसे पहला calculating device है ABACUS | ABACUS का मतलब है calculating board। |Egyptian और Chinese लोगों ने  इसे develop किया था |इसमें sticks होते हैं horizontal positions में जिसमें की छोटे छोटे आकार के pebbles को insert किया जाता है।

History of computer in hindi

इसमें बहुत से horizontal bars होते हैं जिसमें प्रत्येक में ten beads होते हैं। Horizontal bars represent करती है units, tens, hundreds, इत्यादि।

History of computer in hindi

Napier’s Bones

सन 1617 AD में English mathematician John Napier ने इसे Devolop किया था |  यह एक ऐसा mechanical device है जिसे की multiplication के उद्देश्य से बनाया गया था। इसे कहा जाता है Napier’s bones वो उन वैज्ञानिक के नाम के बाद।

History of computer in hindi

History of computer in hindi

Slide Rule

Slide Rule को English mathematician Edmund Gunter ने devolop किया था | इसे 16th century में पुरे Europe में बहुत ज्यादा इस्तमाल में लाया गया।यह machine बड़ी ही आसानी से बहुत से operation perform कर सकता है जैसे की addition, subtraction, multiplication, और division। 

History of computer in hindi

History of computer in hindi

ADDING MACHINE– BLAISE (1642 A.D) :- PASCAL– PRANCE

 यह machine आसानी से digits को add कर सकती थी वो भी carry करने के साथ automatically। उस समय के प्रसिद्ध French Scientist और Mathematician, Blaise Pascal ने इस machine को invent किया था जो की उस समय में केवल 19 वर्षों के ही थे।

उनकी यह machine इतनी ज्यादा revolutionary थी की इसकी principle को आज भी बहुत से machanical counters में इस्तमाल किया जाता है।

History of computer in hindi
OLYMPUS DIGITAL CAMERA

History of computer in hindi

MULTIPLYING MACHINE- COTTFRIED LEIBNITZ- GERMANY (1692 A.D)

इस समय Leibnita बहोत ज्यादा प्रसिद्ध हुए और उनके काम के लिए Sir Isaac Newton के साथ मिलकर एक नयी branch की mathematics को develop किया , जिससे आज हम Calculus के नाम से जानते हैं।आज के समय में calculator आसानी से add, subtract, multiply and divide accurately कर सकता था। वहीँ ये square root function भी करने में सक्षम था।

Pascal की machine को और ज्यादा improve Gottfried ने किया था और उन्होने ऐसी machinism की अबिष्कार किया जो की numbers की automatic multiplication कर सकता था |

History of computer in hindi

History of computer in hindi

EARLY 1800’S JACQUARD LOOM – JOSEPH MARIE JACQUARD

एक French weaver Joseph Marie Jacquard ने एक ऐसा programmable loom develop किया early eighteenth century में जो की holes और large cards का इस्तेमाल करता था , और बहोत ही control के साथ उन्हे punch करता था जो की अंत में एक pattern automatically बनकर तैयार होता था।

History of computer in hindi

अब भी Jacquard patterns का इस्तेमाल किया जाता है | और वहीँ लोगो ने primary form of input के तोर पर punched cards को adapt करके इस्तमाल करने लगे |

History of computer in hindi

भारत में कंप्यूटर का इतिहास (History of computer in India)

जब दो major forces Political administration, Government policy advisers bureaucrats और technocrats ने एक साथ मिलकर काम करने का तय किया तब हमारे भारत में computer technologies की development मुमकिन हो पायी है | अब हम भारत के computer evolution को अलग अलग phases में जानेंगे

GenerationFirst Generation ISecond Gen IIThird Gen IIIFourth Gen IV
TechnologyVacuum TubesTransistorsIntegrated Circuits (multiple transistors)Microchips (millions of transistors)
SizeFilled Whole BuildingsFilled half a roomSmallerTiny – Palm Pilot is as powerful as old building-sized computer

History of computer in hindi

Phase I

सन 1950 से भारत में Computer Technologies सुरु हुआ था | Tata Institute of Fundamental Research (TIFR), Bombay में पहला administration भारत में एक digital computer बनाने के शुरुवात की जो की R Narasimhan के leadership के माध्यम से बानी |

सन 1955 में TIFRAC (TIFR Automatic Computer) को start किया गया था और यही सन 1959 में इसे complete कर दिया गया |  TIFRAC आसानी से process कर सकता था upto 2048 word अपनी memory (40-bit word, 15 microsecond cycle time) में और वहीँ एक display output के तोर पर Cathode ray tube का इस्तमाल किया गया था।

TIFRAC की इस्तेमाल से TIFR और Atomic Energy establishment के physics problems को solve करने में मदद होती थी इसलिए TIFRAC desing किया गया था | इसकी मदद से भारत बड़े ही effectively computers को build और design कर सकता था।

और सन 1960’s में पूरी दुनिया में computer industry में non-foreign exchange outflow की पहल हो गयी थी |  उस समय भारत में Mechanical accounting machines बेच रहे थे, उन्होंने  IBM और British Tabulation machines को establish किये थे , उनका नाम बाद में ICL रखा गया था |

IBM ने punch card machines बनाना बनाना शुरू किया और सारी देशो बिदेशो में इसको Export करने लगा | में computer manufacturing plant बना सकें इसलिए IBM और ICL को licenses और agreements issue किये गए |

History of computer in hindi

Phase II

Department of Electronics को सन 1970 में  establish किया गया जिसका मूल उद्देश्य था की कैसे Electronics Technologies को enhance किया जा सके और जो की बाद में PSU company ECIL के computer division को establish करने में भी सहायक हुआ। (Electronics Corporation of India Limited).

TDC-12 को 12 bit real time minicomputer ECIL ने design किया था और इसे बाद में TDC-312 को upgrade किया गया, इसे बाद में फिर से सन 1975 को build किया गया जो की एक 16 bit computer था |

 microprocessor के ऊपर purely based था एक MICRO-78 system जो की ECIL ने  सन 1978 में बनाया था | अलग अलग universities के research के लिए, ECIL ने government laboratories को बहोत सरे computers बेचा , इन्होने सन 1971 से 1978 तक करीब 98 computers की संरचना की थी |

Air Defense Ground Environment Systems Indian Air Force को प्रदान किया जो की ECIL का एक major contribution था |

Minicomputer policy सन 1978 में बनाया गया जिसकी बजह से IBM भारत से बहार चला गया और इससे नए technical entrepreneurs को अवसर मिला अपने manufacturing units की स्थापना करने के लिए, जैसे की WIPRO और HCL। ये companies अभी तक भी पुरे दुनिया में अपना नाम रोशन कर रहे हैं।

History of computer in hindi

Phase III

 Private sector companies के computers manufacture को allow करने के लिए एक liberalized policy बनाया गया , जब सन 1984 में  Rajiv Gandhi भारत के Prime Minister बने तभी इस liberalized policy बनाया गया |

Assembled boards microprocessors और interface electronics के साथ Private sector companies ने manufacture किया जिन्हें की उन्होंने import किया application software के साथ, जिसमें की कम imported duty लगती थी।

Computers का growth 100% तक बढ़ गया और वहीँ इसके कीमत में करीब 50% की कमी हुई इसका कारन था Liberalization policy | सन 1984 में Indian Railway’s Seat Reservation System computerization शुरू हुआ वहीँ सन 1986 मे ये पूरी तरह से खत्म हो गया था | बिना किसी foreign advisers मदद से ये Seat Reservation System की entire software को Indian programmers के द्वारा ही बनाया गया था 

History of computer in hindi

Phase IV

World Bank ने India को उसके external debt और trading (import और export) के ऊपर कुछ conditions लागु किये जिसके चलते Indian government को बाध्य होकर अपने economy को liberalize करना पड़ा क्योकि उस समय सन 1991 में भारत के ऊपर एक बहुत ही बड़ा financial crisis आ पड़ा और उससे बचने के लिए ये सब करना पड़ा था |

सन 1990-1991 में Indian software companies ने earn करना चालू किया software को export कर, जिसकी estimated value US$125 million थी। वहीँ Earning की भी exponentially increase हुई जो की US$ 1.70 billion से ज्यादा थी सन 1997-98 के दौरान।

Indian software companies ने अपने लिए standardized way तय कर लिए थे Industry में काम करने के लिए। Indian software companies ने invent किया GDM (Global Delivery Model) और जिसके लिए उन्होंने 24-hour working hours की संरचना की IT industry के लिए। इसलिए ही पुरे विश्व में भारत को IT Industry का प्रमुख माना जाता है।

History of computer in hindi

पहला डिजिटल कंप्यूटर : सन 1642 में पहला डिजिटल कंप्यूटर का अबिस्कर ब्लेज पास्कल (Blaise Pascal) ने किया था |

History of computer in hindi

History of computer in hindi

कंप्यूटर का जनक :कंप्यूटर का जनक चार्ल्स बैबेज(Charles Babbage) कहा जाता है |

History of computer in hindi

ABACUS का फ़ुल फ़ोरम : ABACUS – Abundant Beads, Addition and Calculation Utility System.

आज हमने क्या सीखा :

आज हमने सीखा की History of computer in hindi (कंप्यूटर का इतिहास ) | मुझे उम्मीद है की आपको कंप्यूटर का इतिहास अच्छे से समज में आ गया होगा | इस article में आपको कंप्यूटर का इतिहास के बारे में बताया गया हे, इसमें आप अच्छे से कंप्यूटर के सारी इतिहास के बारे में जान सकते हो और आप इसमें कंप्यूटर के प्रकार ,कंप्यूटर का जनक , कंप्यूटर कब और किसने अबिष्कार किया था और कंप्यूटर का कार्य जैसे और भी बहोत सरे कंप्यूटर के बारे में information दिए गए है जो की आपको समझने में आसानी होगी | अगर आपको कोई भी चीज़ समझने में परेशानी हो तो आप उसे comment कर हो |

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं।

For more information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *