Computer

What is switch Hindi |Switch क्या है ?

What is switch Hindi |Switch क्या है

आज हम जानेंगे की networking में switch का उपयोग क्या है , और switch का फायदा और नुकसान के बारे में भी आज हम बात करेंगे | अगर आपको network में interest हे तो आपको switch के बारे में जानने की जरूरत है क्यों की आपके किसी भी network में ये आपकी मदद कर सकता है और ये फायदेमंद तो है पर अगर अपने इसका उपयोग सही तरीके से न किया हो तो ये आपको नुकसान में भी पका सकता है ,तो आज हम कुछ ऐसे ही switch के फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे | तो चलिए सुरु करते है :-

What is switch Hindi |Switch क्या है

What is switch ? Switch क्या है ?

Switch एक तरह का network device है जो की multiple compters या फिर network devices को एक साथ जोड़ सकता है जिसे की एक computer का data दूसरे computer में आसानी से transfer हो सकता है |

ये एक switch hub की तरह होती है लेकिन ये hub की तुलना में ज्यादा बुद्धिमान होती है |

Switch को  Bridging Hub भी कहा जाता है , क्योकि एक bridge जैसे एक जगह से दूसरे जगह से connected होता है हमारे जाने आने के लिए ठीक उसी प्रकार Switch भी एक computer को दूसरे computer के साथ connect करता है जिससे की data को transfer करने में आसानी हो | Switch के मदद से हम अपने कोई भी प्रकार के private massage भेज सकते है | किस port से कोनसी device connected है ये identify करने के लिए switch MAC Adress की मदद लेता है , जिससे की switch Particular Destination से massege deliver करता है | LAN जैसे small network बनाने में भी switch का इस्तेमाल बहोत अच्छे से होता है |

What is switch Hindi |Switch क्या है

How Does Switch work ? स्विच कैसे काम करता है ?

Network में जुड़े device से data को Receive और Forward करना Switch मुख्या काम होता है |MAC Address के इस्तेमाल से Switch data को transfer करता है |

Network से जुड़े सभी MAC Address का store switch के पास होता है | जब एक computer network से जुड़ा एक और computer को कोई data या information जैसा कुछ भी भेजता है तो उसके साथ उस computer का MAC Address भी भेजता है | क्योकि data , information यही पर ही जाये जहा उसे भेजा गया था |

Switch के पास जब Information और MAC Address पहचता है तब switch MAC Address को check करता है और उसी के अनुसार data को उस computer में भेजता है जहा उसे भेजना चाहिए | Network में data को सुरखित रूप से Switch की मदद से भेज सकते है |

अगर हम पहेली बार switch को active करके उसमे कुछ भेजेंगे तो वो सबके पास Configure कर देता है क्योकि जब हम पहेली बार switch को active करते है तो उसमे कोई भी MAC Address नहीं होता इसलिए उसे ये पता नहीं होता की किसके पास data भेजना है और किसके पास नहीं |

What is switch Hindi |Switch क्या है

Type of Switch |Switch के प्रकार 

Switch के बहोत सरे प्रकार होते है ज्यादा तोर पर इसे चार हिस्सों में बता गया है जो की :-

1- Unmanaged Switch (अप्रबंधित स्विच)

Unmanaged switch में configur या फिर monitor की जरुरत नहीं होती | जब network में ज्यादा उपकरणों जोड़ने की जरुरत होती है तो इसे plug और play के माध्यम से जोड़ा जाता है | unmanaged switch को ज्यादा तोर पर घरेलु और छोटे ब्यबसाय में उपजोग किया जाता है | इस network को सिर्फ plug in करके start किया जाता है , जिसके बाद ये तुरंत ही काम करना सुरु कर देता है | ये switch सस्ता होता है |

2 – Managed Switch (प्रबंधित स्विच)

बड़े और जटिल network बाले managed switch का इस्तेमाल Organizations में उपयोगकरते है | इस network में safety ज्यादा होती है , सटीक नियंत्रण और ये network को पूरी तरह से सभांलने की  क्षमता रखती है |

Network की कार्य क्षमता बढ़ने के लिए managed switch को Customize किया जाता है | ये switch महंगे होते है फिर भी ये Organizations में सबके पसंद है क्युकी इसमें Scalability और Flexibility बहोत ज्यादा होती है |

SNMP(Simple Network Management Protocol) का इस्तेमाल managed switch को configur करने के लिए किया जाता है |

3 – LAN Switch (लोकल एरिया नेटवर्क स्विच)

 Organizations में Internal LAN में उपकरणों को जोड़ने के लिए LAN switch का इस्तेमाल किया जाता है | इसको internet switch या data switch के नाम से भी जाना जाता है | इस switch का इस्तेमाल ज्यादा तोर पर network traffic को काम करने के लिए किया जाता है | Data packet में overlap न हो इसलिए LAN switch को Allocate किया जाता है |

इस switch को ethernet switches या data switches भी कहा जाता है |

4. PoE Switches

PoE का full form है power over Ethernet |

PoE technology में PoE switch का इस्तेमाल होता है | ये technology एक ऐसी technology होती है जो की data और power को integrate करती है और same cable में allow करती है जिससे की वो data receive करें power के parallel में. इसलिए ये switches ज्यादा बेहतर flexibility प्रदान करते हैं cabling process को simplify कर।

आज हमने की सीखा |

तो आज network switch के बारे में सीखा | What is switch Hindi |Switch क्या है ?

मुझे पूरी उम्मीद है की आपको switch के बारे में अच्छे से समाज आ गया होगा अगर आपको किसिस चीज़ में कोई भी doubt हो या फिर switch के बारे में कुछ और जानकारी जरुरत हो तो आप उसे comment कर सकते है | में आप सबका comment जरूर पढूंगा और और आपके doubt का हल जरूर करूँगा |

ऐसी ही किसिस और चीज़ के बारे में जानकारी जरुरत हो तो आप comment कर सकते है में उस चीज़ की information देने की पूरी कोसिस करूँगा |

हमारे नए post देखने के लिए यहाँ click करे |

For more information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *